महंगे पेट्रोल के खिलाफ अपनी ही सरकार पर भड़के स्वामी, कहा- 90 नहीं 40 रुपये होना चाहिए रेट

नई दिल्ली। पेट्रोलियम के अंतरराष्ट्रीय बाजार में घटे दामों के हवाले देश में  पेट्रोल-डीजल की कीमतें कम नहीं हुई हैं, इसे लेकर भाजपा के मुखर नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा कि अब पेट्रोल औऱ डीजल की कीमतें शायद  मुद्दा नहीं रह गई हैं। कई शहरों में पेट्रोल के दाम 80 रुपये के पार हैं तो डीजल 90 रुपये के पार। जिसकी वजह से महंगाई भी बढ़ी है।  सुब्रमण्यम स्वामी (Subramanian Swamy) ने अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा खोलते हुए कहा कि पेट्रोल औऱ डीजल के दाम सस्ते होने चाहिए। 

40 रुपये हो पेट्रोल का रेट

सुब्रमण्‍यम स्‍वामी ने पेट्रोल की बढ़ती कीमतों को लेकर किए गए Tweet में लिखा है, 

'पेट्रोल के दाम 90 रुपये प्रति लीटर पहुंचना भारत सरकार की ओर से देशवासियों का आश्‍चर्यजनक शोषण है। रिफाइनरी में पेट्रोल के दाम 30 रुपये प्रति लीटर होते हैं। इसके बाद सभी तरह के टैक्‍स और पेट्रोल पंप कमीशन मिलाकर इसमें 60 रुपये तक की बढ़ोतरी होती है। मेरी नजर में पेट्रोल को अधिकतम 40 रुपये प्रति लीटर के हिसाब से बेचा जाना चाहिए।'-सुब्रमण्‍यम स्‍वामी 

https://twitter.com/Swamy39/status/1335973451752820746

2 साल बाद इतना महंगा हुआ पेट्रोल

आपको बता दें कि 20 नवंबर 2020 के बाद से पेट्रोल की कीमतों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. सोमवार को मुंबई में पेट्रोल का रेट 90 रुपये प्रति लीटर पहुंच गया, जो कि 2018 के बाद पहली बार हुआ है। वहीं डीजल 80 रुपये से ज्यादा रेट पर मिल रहा है। इसके पहले अक्टूबर 2018 को पेट्रोल का रेट 91.34 रुपये प्रति लीटर पहुंच गया था।

पेट्रोल डीजल के आज के रेट 

10 दिसम्बर को दिल्ली में पेट्रोल के दाम 83.71 रुपये और डीजल 73.87 रुपये प्रति लीटर है। वहीं मुंबई में पेट्रोल के दाम 90.34 रुपये और डीजल 80.51 रुपये प्रति लीटर हैं। कोलकाता में पेट्रोल 85.19 रुपये और डीजल 77.44 रुपये प्रति लीटर है। चेन्नई में पेट्रोल 86.51 रुपये और डीजल के दाम 79.21 रुपये प्रति लीटर हैं।

कीमतों में जल्द आएगी स्थिरता

इसके पहले पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने उम्मीद जताई थी कि पेट्रोलियम निर्यातक देशों के संगठन (OPEC) के कच्चे तेल का उत्पादन बढ़ाने के हाल के फैसले के बाद ईंधनों के दामों (Fuel Prices) में स्थिरता आएगी।प्रधान ने कहा था, ''ओपेक ने दो दिन पहले ही फैसला किया है कि वह कच्चे तेल का पांच लाख बैरल उत्पादन हर रोज बढ़ाएगा। इसका हमें फायदा मिलेगा और हमारा अनुमान है कि दाम स्थिर होंगे।

पूरी स्टोरी पढ़िए