कृषि वैज्ञानिक डॉ. वरिन्दर पाल सिंह का किसानों को समर्थन, पुरस्कार लेने से किया इन्कार

पंजाब कृषि विश्वविद्यालय के जानेमाने कृषि वैज्ञानिक डॉ. वरिन्दर पाल सिंह ने पुरस्कार लेने से इनकार कर दिया है। कृषि वैज्ञानिक का यह फैसला तीन कृषि कानून के खिलाफ आंदोलनरत किसानों के समर्थन में किया गया है। डॉ. वरिन्दर पाल जानेमाने केमिकल वैज्ञानिक हैं और उन्होंने केन्द्र सरकार से किसानों के हित में कृषि कानून वापस लेने की अपील की है।

मैंने हमेशा किसानों के और देश के हित में ही कार्य किया है, जिसके परिणामस्वरूप मुझे यह पुरस्कार दिया जाना है, मुझे बहुत अपराधबोध होगा यदि मैं ऐसी परिस्थितियों में यह पुरस्कार स्वीकार करता हूं।- डॉ. वरिन्दर पाल सिंह, कृषि वैज्ञानिक, पंजाब विश्वविद्यालय

डॉ. वरिन्दर पाल सिंह को यह पुरस्कार प्लान्ट न्यूट्रिशन के क्षेत्र में उनके विशेष कार्यों के मद्देनजर फर्टीलाइजर एसोसिएशन ऑफ इंडिया के द्वारा पुरस्कृत किया जाना था। यह पुरस्कार दिल्ली में सोमवार को आयोजित एख समारोह में केन्द्रीय उर्वरक मंत्री डी. वी. सदानन्द गौढ़ा के हाथों दिया जाना था। 

पूरी स्टोरी पढ़िए